Top 10 Heart Touching Sad Shayari in Hindi

0
80
Sad Shayari in Hindi

Sad Shayari in Hindi In present Era love is very underated among people they are not able to express their feelings properly to their lovers. Sad Shayari in Hindi So with this content we will help you out in expressing your love. If you are searching for Sad Shayari on internet, then Today I’m going to share with you sad Shayari collection in Hindi and english.

Lovers are using Sad Shayari in Hindi To express their feelings. Sad shayari is most famous rhyme worldwide. No matter what language people are using for shayari, but in India the Hindi language are using for shayari. I have provided you the large collection of sad shayari you will love this collection you can find many different shayari from below & just choose one of them and share with your loved one. So Friends Read here best sad shayari in hindi like love breakup sad shayari, new sad shayari with image, shayari on sad feelings, latest sad shayari, sad sms picture, sad status, latest sad status for whatsapp, sad message, sad fb status, sad shayari for girlfrind/boyfriend Sad Shayari in Hindi etc. You can share these Sad Shayaris to your friends, girlfrind, gf, boyfriend, bf. If you do like our collection, don’t forget to like/share on facebook and Whatsapp. Sad Shayari in Hindi

Sad Shayari in Hindi

  1. Rone Ki Hasarat Thi
  2. UJAD JAATE HAIN..!
  3. WO KYU BADAL GAYA
  4. MERI MAHOBBAT AUR USKI NAFRAT
  5. AJEEB SA DARD HAI
  6. BAHUT TADPAATE HAIN
  7. HAM BIKHAR GAYE

1 Rone Ki Hasarat Thi

Log Poochhte Hain Kyu Surkh Hain Tumhari Aankhe,
Hans Ke Kah Deta Hoon Raat So Na Saka,
Laakh Chaahoon Magar Ye Kah Na Sakoon,
Raat Rone Ki Hasarat Thi Ro Na Saka.

लोग पूछते हैं क्यों सुर्ख हैं तुम्हारी आँखे,
हंस के कह देता हूँ रात सो ना सका,
लाख चाहूं मगर ये कह ना सकूँ,
रात रोने की हसरत थी रो ना सका।

Kya Gham Hai, Kya Khushi Maloom Nahi,
Apna Hai Ki Ajnabi Maloom Nahi,
Jiske Bina Ek Pal Nahi Guzarta,
Kaise Guzregi Ye Zindagi Maloom Nahi.

क्या ग़म है, क्या ख़ुशी मालूम नहीं,
अपना है की अजनबी मालूम नहीं,
जिसके बिना एक पल नहीं गुज़रता,
कैसे गुज़रेगी ये ज़िन्दगी मालूम नहीं।

Uljhi Sham Ko Pane Ki Zid Na Karo,
Na Ho Apna Use Apnane Ki Zid Na Karo,
Is Samander Me Tufaan Bahut Aate Hain,
Iske Shahil Par Ghar Basane Ki Zid Na Karo.

उलझी शाम को पाने की ज़िद न करो,
न हो अपना उसे अपनाने की ज़िद न करो,
इस समंदर में तूफ़ान बहुत आते हैं,
इसके साहिल पर घर बसाने की ज़िद न करो।

2 UJAD JAATE HAIN..!

UJAD JAATE HAIN SAR SE PAANV TAK WO LOG JO,
KISI BEPARWAH SE BE-PANAAH MOHABBAT KARTE HAIN.

उजड़ जाते हैं सर से पाँव तक वो लोग जो,
किसी बेपरवाह से बे-पनाह मोहब्बत करते हैं।

MUJHSE KHUSHNASEEB HAIN MERE LIKHE YE LAFJ,
JINKO KUCHH DER TAK PADHENGI NIGAHEN TERI.

मुझसे खुशनसीब हैं मेरे लिखे ये लफ्ज,
जिनको कुछ देर तक पढ़ेगी निगाहे तेरी।

JO DHADAKAN KI BHASHA SUNA KARTI THI,
WO AAJ NAHI SUNTI SISKIYAN MERI.

जो धड़कन की भाषा सुना करती थी,
वो आज नही सुनती सिसकियाँ मेरी।

AARZOO THI TERI MOHABBAT PAANE KI,
TUNE TO NAFRAT KE KAABIL BHI NAHIN SAMJHA

आरजू थी तेरी मोहब्बत पाने की,
तूने तो नफरत के काबिल भी नहीं समझा।

SANSON ME BHI SHAMIL HO, LAHOO ME BHI RAVA HO,
MAGAR MERE HAATHO KI LAKEERO ME KAHAN HO.

सासों मे भी शामिल हो, लहू मे भी रवा हो,
मगर मेरे हाथो की लकीरो मे कहा हो।

3 WO KYU BADAL GAYA

SOCHTA RAHA YE RAATBHAR KARAVAT BADAL BADAL KAR,
JANE WO KYU BADAL GAYA, MUJHKO ITNA BADALKAR.

सोचता रहा ये रातभर करवट बदल बदल कर,
जानें वो क्यों बदल गया, मुझको इतना बदल कर।

BAHUT DAR LAGTA HAI UN LOGO SE JO…
BATO MEIN MITHAS AUR DILO MEIN JAHAR RAKHTE HAIN.

बहुत डर लगता हैं उन लोगो से जो…
बातो में मिठास और दिलो में जहर रखते हैं।

WO AAJ PHIR SE MILE AJNABI BANKAR,
AUR HAMEN AAJ PHIR SE MOHABBAT HO GAYI.

वो आज फिर से मिले अजनबी बनकर,
और हमें आज फिर से मोहब्बत हो गई।

DHOKHA DENE KA SHUKRIYA AI-MERE BICHHDE HUYE HAMSAFAR,
WARNA ZINDAGI KA MATLAB HI NAHI SAMAJH MEIN AATA.

धोखा देने का शुक्रिया ऐ-मेरे बिछड़े हुए हमससफर,
वरना ज़िन्दगी का मतलब ही नही समझ में आता।

BESHAK TERE PHONE KI KOI UMMEED TO NAHIN LEKIN,
PATA NAHIN KYA SOCHKAR, MAIN AAJ BHI NUMBER NAHIN BADALTA.

बेशक तेरे फ़ोन की कोई उम्मीद तो नहीं लेकिन,
पता नहीं क्या सोचकर, मैं आज भी नंबर नहीं बदलता।

4 MERI MAHOBBAT AUR USKI NAFRAT

YE MERI MAHOBBAT AUR USKI NAFRAT KA MAMLA HAI,
AI MERE NASEEB TU BEECH MEIN DAKHAL-ANDAJI MAT KAR.

ये मेरी महोब्बत और उसकी नफरत का मामला है,
ऐ मेरे नसीब तू बीच में दखल-अंदाज़ी मत कर।

NA JANE KIS BAAT PE WO NARAJ HAIN HAMSE,
KHWABON ME BHI MILTA HOON TO BAAT NAHI KARTI.

ना जाने किस बात पे वो नाराज हैं हमसे,
ख्वाबों मे भी मिलता हूँ तो बात नही करती।

JO KAHA KARTE THE KABHI TUMHE NA BHOOL PAYENGE,
MILE JO KAL TO BOLE… LAGTA HAI KAH DEKHA HAI.

जो कहा करते थे कभी तुम्हे ना भूल पायेंगे,
मिले जो कल तो बोले लगता है कही देखा है।

SUNA HAI WO MUJHE BHOOL CHUKI HAI,
AUR TO KUCHH NAHIN BAS, USAKI HIMMAT KI DAAD DETA HOON.

सुना है वो मुझे भुल चुकी है,
और तो कुछ नहीं बस, उसकी हिंम्मत की दाद देता हूँ।

MERI SHAYARI KO LOG ITNI SIDDAT SE PADHTE HAIN,
JAISE IN SABNE BHI KISI AJNABI SE MOHABBAT KI HO.

मेरी शायरी को लोग इतनी सिद्दत से पढते हैं,
जैसे इन सबने भी किसी अजनबी से मोहब्बत की हो।

5 AJEEB SA DARD HAI

AJEEB SA DARD HAI IN DINON YAARO,
NA BATAUN TO KAAYAR, BATAOON TO SHAYAR.

अजीब सा दर्द है इन दिनों यारों,
न बताऊं तो ‘कायर’, बताऊँ तो ‘शायर’।

USE GAIRON SE BAAT KARTE DEKHA TO THODI TAKALIF HUI,
PHIR YAAD AAYA HAM KAUN SA USKE APNE THE.

उसे गैरों से बात करते देखा तो थोड़ी तकलीफ हुई,
फिर याद आया हम कौन सा उसके अपने थे।

BAHANA KYU BANATE HO NARAJ HONE KA
KAH KYU NAHI DETE KE AB DIL ME JAGAH NAHI TUMHARE LIYE.

बहाना क्यों बनाते हो नाराज होने का
कह क्यों नही देते के अब दिल मे जगह नही तुम्हारे लिए।

BAS EK BAR NIKAAL DO IS ISHQ SE AI KHUDA,
PHIR JAB TAK JIYENGE KOI KHATA NA KARENGE.

बस एक बार निकाल दो इस इश्क से ऐ खुदा,
फिर जब तक जियेंगे कोई खता न करेंगे।

MUJHE RULA KAR SONA TO TERI AADAT BAN GAYI HAI,
JIS DIN MERI AANKH NA KHULI TUJHE NEEND SE NAFRAT HO JAYGI.

मुझे रुला कर सोना तो तेरी आदत बन गई है,
जिस दिन मेरी आँख ना खुली तुझे नींद से नफरत हो जायगी।

MANA KI TERE PYAR KA MAIN MAALIK NAHIN,
PAR KIRAYEDAR KA BHI KUCHH HAQ TO BANTA HAI.

माना की तेरे प्यार का मैं मालिक नहीं,
पर किरायेदार का भी कुछ हक तो बनता है।

6 BAHUT TADPAATE HAIN

JAB MILO KISI SE
TO JARA DOOR KA RISHTA RAKHNA,
BAHUT TADPAATE HAIN
AKSAR SEENE SE LAGAANE WAALE.

जब मिलो किसी से
तो जरा दूर का रिश्ता रखना,
बहुत तङपाते है
अक्सर सीने से लगाने वाले।

AB TUJHSE SHIKAYAT KARNA,
MERE HAQ ME NAHIN
KYUKI TU AARZOO MERI THI,
PAR AMANAT SHAYAD KISI AUR KI.

अब तुझसे शिकायत करना
मेरे हक मे नहीं,
क्योंकि तू आरजू मेरी थी
पर अमानत शायद किसी और की।

AJEEB HAI MAHOBBAT KA KHEL,
JA MUJHE NAHI KHELNA
ROOTH KOI AUR JAATA HAI ,
TOOT KOI AUR JAATA HAI.

अजीब है महोब्बत का खेल,
जा मुझे नही खेलना,
रूठ कोई और जाता है
टूट कोई और जाता है।

7 HAM BIKHAR GAYE

ISHQ KI HAMARE BAS ITNI SI KAHANI HAI,
TUM BICHHAD GAYE HAM BIKHAR GAYE,
TUM MILE NAHIN AUR…
HAM KISI AUR KE HUYE NAHI.

इश्क की हमारे बस इतनी सी कहानी है,
तुम बिछड गए हम बिख़र गए,
तुम मिले नहीं और…
हम किसी और के हुए नही।

SHIKAYAT HAI UNHEN KI,
HAMEN MOHABBAT KARNA NAHI AATA,
SHIKAWA TO IS DIL KO BHI HAI,
PAR ISE SHIKAYAT KARNA NAHIN AATA.

शिकायत है उन्हें कि,
हमें मोहब्बत करना नही आता,
शिकवा तो इस दिल को भी है,
पर इसे शिकायत करना नहीं आता।

TUMKO CHHUPA RAKHA HAI IN PALKON ME,
PAR INKO YE BATANA NAHIN AAYA,
SOTE HUYE BHEEG JAATI HAIN PALKE MERI,
AB TAK DARD CHHUPANA NAHIN AAYA.

तुमको छुपा रखा है इन पलकों मे,
पर इनको ये बताना नहीं आया,
सोते हुए भीग जाती हैं पलके मेरी,
अब तक दर्द छुपाना नहीं आया।

Sad Shayari in Hindi Shayari

Love shayari in Hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here